PM Kisan 2022 : PM Modi आज देंगे किसानों को सौगात, 10 करोड़ किसानों के बैंक खाते में 21,000 करोड़ रुपये होगा ट्रांसफर चेक अपना खाता

327

PM Kisan Samman Nidhi Yojana 11th Installment: पीएम मोदी देंगे बटन दबाकर करेंगे 10 करोड़ किसानों के बैंक खाते में 21,000 करोड़ रुपये ट्रांसफर करेंगे |

पीएम किसान सम्मान योजना: मोदी सरकार अपनी आठवीं वर्षगांठ मना रही है, ऐसे में इस मौके पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी किसानों को एक बड़ा तोहफा देने जा रहे हैं. पीएम मोदी बटन दबाएंगे और 10 करोड़ किसानों के बैंक खाते में 21,000 करोड़ रुपये ट्रांसफर करेंगे. प्रधानमंत्री कार्यालय के अनुसार प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के तहत होने वाले गरीब कल्याण सम्मेलन में प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के तहत किसानों के बैंक खाते में दिन के 11 बजे 11वीं किश्त की राशि ट्रांसफर करेंगे. हिमाचल प्रदेश की राजधानी शिमला में आयोजित किया गया।

किसानों के खाते में आएगी पीएम किसान की 11वीं किस्त
पीएम किसान सम्मान निधि योजना के तहत 11वीं किस्त की राशि ट्रांसफर करने के साथ ही प्रधानमंत्री इस मौके पर पीएम किसान (पीएम-किसान) योजना के लाभार्थियों से बातचीत भी करेंगे. आपको बता दें कि पीएम किसान सम्मान निधि योजना के तहत अब तक किसानों के बैंक खातों में 1.80 लाख करोड़ रुपये ट्रांसफर किए जा चुके हैं. इस कार्यक्रम के आयोजन की जानकारी खुद पीएम मोदी ने भी अपने ट्विटर हैंडल से साझा की है.

क्या है पीएण किसान योजना

पीएम किसान सम्मान निधि योजना के तहत पात्र किसान परिवारों को हर साल 6,000 रुपये की वित्तीय सहायता दी जाती है। यह राशि दो-दो हजार रुपये की तीन समान किस्तों में किसानों के खाते में ट्रांसफर की जाती है. ये किश्तें हर चार महीने में आती हैं यानि साल में तीन बार, 2000-2000 रुपये योजना के तहत किसानों के खाते में भेजे जाते हैं। केंद्र सरकार यह पैसा सीधे किसानों के खाते में ट्रांसफर करती है। अब तक किसानों के खाते में दो-दो हजार रुपये की 10 किस्तें भेजी जा चुकी हैं। 10वीं किस्त 1 जनवरी 2022 को किसानों के बैंक खाते में ट्रांसफर की गई। यह पैसा सीधे आपके बैंक खाते में ट्रांसफर किया जाता है। सरकार अब तक इस योजना के तहत किसानों के बैंक खाते में 1.8 लाख करोड़ रुपये की सम्मान राशि हस्तांतरित कर चुकी है।

मोदी सरकार के 8 साल पूरे

मोदी सरकार के 8 साल पूरे होने पर शिमला में आयोजित होने वाले इस सम्मेलन में प्रधानमंत्री शिरकत कर रहे हैं. इसलिए देश भर के विभिन्न राज्यों के राजधानी, जिला मुख्यालयों और कृषि विज्ञान केंद्रों में भी गरीब कल्याण सम्मेलन का आयोजन किया जा रहा है जिसमें केंद्र सरकार के मंत्री और अन्य प्रतिनिधि भाग लेंगे. इस कार्यक्रम में निर्वाचित प्रतिनिधि जनता से सीधे संवाद करेंगे और सरकार की जनकल्याणकारी योजनाओं के बारे में फीडबैक प्राप्त करेंगे।